A Fastest Growing Hindi Blog

9 मई 2020

What is Mutual Fund in Hindi? Type of Mutual Funds in Hindi

What is Mutual Fund in Hindi? Type of Mutual Funds in Hindi

क्या आप Mutual Fund की Scheme में निवेश कर रहे हैं या करना चाहते हैं? निवेश करने से पहले Mutual Fund को अच्छी तरह से जान लेना बहुत जरूरी है (What is Mutual Fund in Hindi?). इससे आपको निवेश करने का फैसला लेने में मदद मिलेगी.
What is Mutual Fund in Hindi?

इस पोस्ट में हम Mutual Fund के बारे में Detail में बात करेंगे साथ ही जानेगें कि आप Mutual Fund में कैसे निवेश कर सकते हैं (How to Invest in Mutual Fund)?

यह भी पढ़ें- Pan Aadhar Link Hindi | PAN और आधार कैसे लिंक करें?

आइए सबसे पहले जानते हैं क्या है Mutual Fund? (What is Mutual Fund in Hindi?)

Mutual Fund Companies Investors से पैसे Collect करती हैं. इसके बाद इस पैसे को वे अलग-अलग जगह निवेश करती हैं. इसके बदले Mutual Fund Companies Investors से कुछ चार्ज भी लेती हैं. आसान शब्दों में कहें तो Mutual Funds बहुत सारे लोगों के पैसे से बना हुआ फण्ड होता है. जिसमे लगाया गया पैसे अलग अलग जगहों पर निवेश करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है और कोशिश की जाती है की निवेशक को उसकी रकम से ज्यादा से ज्यादा मुनाफा दिया जाए.

जिन लोगों को शेयर बाजार में निवेश के बारे में बहुत ज्यादा जानकारी नहीं है या ये कहें की वो लोग शेयर बाजार में निवेश से होने वाले खतरे को कम करना चाहते हैं, उनके लिए Mutual Fund Investment का एक अच्छा Option है. Fund को Manage करने का काम एक Professional व्यक्ति द्वारा किया जाता है जिसको Professional Fund Manager कहा जाता है. Professional fund manager का काम म्यूच्यूअल फण्ड की देख रेख करना व फण्ड के पैसे को सही जगह पर लगा कर अधिक Profit प्राप्त कराना होता है. Mutual Fund में Investors अपने Financial goals के हिसाब से Mutual Fund स्कीम चुन सकते हैं.

यह भी पढ़ें - [BEST] Farewell Speech in Hindi - विदाई समारोह के लिए फेयरवेल स्पीच

Mutual Fund में Invest कैसे करें? (How to Invest in Mutual Fund)


आप किसी Mutual Fund की वेबसाइट से जाकर Direct investment कर सकते हैं. अगर आप चाहें तो किसी Mutual Fund Advisor, Broker या Distributor की Service भी ले सकते हैं.

अगर आप सीधे निवेश करते हैं तो आप Mutual Fund स्कीम के Direct plan में Invest कर सकते हैं. अगर आप किसी Advisor Broker या Distributor की मदद से Invest कर रहे हैं तो आप किसी Mutual Fund स्कीम के Regular plan में Invest करते हैं.

अगर आप Direct investment करना चाहते हैं तो आपको उस Mutual Fund की वेबसाइट पर जाना पड़ेगा या आप उसके Office में भी अपने Documents के साथ जा सकते हैं.

Mutual Fund के किसी Direct plan में Investment करने का फायदा यह है कि आपको कमीशन नहीं देना पड़ता है. इसलिए Long Term के Investment में आपका रिटर्न बहुत बढ़ जाता है. इस तरीके से Mutual Fund में निवेश करने में एक दिक्कत यह है कि आपको खुद रिसर्च करना पड़ता है.

यह भी पढ़ें - 30 Best Hindi Quotes Images for Whatsapp

India में कितने तरह के Mutual Fund हैं? (Type of Mutual Fund in Hindi)

India मेँ Mainly 4 तरह के Mutual Fund होते हैं.
●Equity Mutual Fund 
●Debt Mutual Fund 
●Hybrid Mutual Fund 
●Solution-Oriented Mutual Fund

1 - Equity Mutual Fund
ये Scheme Investors के पैसे का सीधे शेयरों में निवेश करती हैं. Short time के लिए ये Scheme Risky हो सकती हैं, लेकिन Long Term में इससे आपको बेहतरीन रिटर्न कमाने में मदद मिलती है. इस तरह की Mutual Fund Scheme में निवेश से आपका रिटर्न इस बात पर निर्भर करता है कि जिन सेक्टर में निवेश किया हैं उनका Performance कैसा है?

जिन Investors का Financial goal 10 साल बाद पूरा होना है, वे इस तरह की Mutual Fund Scheme में Invest कर सकते हैं.

2 - Debt Mutual Fund
ये Mutual Fund Scheme Debt securities में निवेश करती हैं. Short Term के Financial Target को पूरा करने के लिए Investors इनमें निवेश कर सकते हैं. 5 साल से कम अवधि के लिए इनमें निवेश करना ठीक है. ये Mutual Fund स्कीम Equity की तुलना में कम Risky होती हैं और बैंक के फिक्स्ड डिपाजिट की तुलना में बेहतर रिटर्न देती हैं.

3 - Hybrid Mutual Fund
इस Mutual Fund Scheme में Equity और Debt दोनों में निवेश किया जाता हैं. इन Scheme को चुनते वक्त भी Investors को अपने Risk उठाने की क्षमता का ध्यान रखना जरूरी है.

4 - Solution-Oriented Mutual Fund
Solution Oriented Mutual Fund स्कीम किसी खास Goal या solution के हिसाब से बनी होती हैं. इनमें Retirement scheme या बच्चे की शिक्षा जैसे लक्ष्य हो सकते हैं. इन स्कीम में आपको कम से कम 5 साल के लिए निवेश करना जरूरी होता है.



यह भी पढ़ें-

Share:

2 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बहुत धन्यवाद सर , मै आपकी daily reader हूँ....आप बहुत अच्छा लिखते हो और सभी पोस्ट में काफी helpful जानकारी देते है ...thank you sir

    जवाब देंहटाएं

LIKE US ON FB

Popular Posts