Blog By Amit Tripathi

12 अग॰ 2021

Corruption Essay in Hindi | भ्रष्टाचार पर निबंध

Corruption Essay in Hindi | भ्रष्टाचार पर निबंध

Corruption Essay in Hindi - भ्रष्टाचार यानी Corruption का मतलब आपराधिक गतिविधि या बेईमानी से जुड़ा है। यह किसी व्यक्ति या समूह द्वारा किए गए गलत काम को दिखाता है। भ्रष्टाचार में मुख्य रूप से रिश्वतखोरी या गबन जैसी गतिविधियाँ शामिल हैं। भ्रष्टाचार कई तरह से हो सकता है। लेकिन देखा गया है की Authority Post पर बैठे लोग भ्रष्टाचार के प्रति ज्यादा संवेदनशील होते हैं। भ्रष्टाचार लालची और स्वार्थी व्यवहार को दर्शाता है।


Corruption Essay in Hindi

भ्रष्टाचार (Corruption) के तरीके

सबसे पहले, रिश्वत भ्रष्टाचार का सबसे आम तरीका है। रिश्वत में व्यक्तिगत लाभ के बदले में Favors और उपहार का अनुचित उपयोग शामिल है। Favors अलग-अलग प्रकार का हो सकता है। इन सबसे ऊपर, पैसा, उपहार, कंपनी के शेयर, Sexual Favors, रोजगार, मनोरंजन और राजनीतिक लाभ शामिल हैं। इसके अलावा, Preferential Treatment और अपराध को नज़रअंदाज़ करना भी Favor ही है।

घूस लेना भी भ्रष्टाचार का एक वैश्विक रूप है। भ्रष्टाचार का एक सबसे लोकप्रिय तरीका राजनेताओं द्वारा सार्वजनिक धन जानी जनता के पैसे का गलत इस्तेमाल करना है।

जबरन वसूली भ्रष्टाचार का एक दूसरा प्रमुख तरीका है। इसका मतलब है अवैध रूप से संपत्ति, धन या सेवाएं प्राप्त करना। जबरन वसूली को ब्लैकमेल जैसा भी कहा जा सकता है।


पक्षपात और भाई-भतीजावाद भ्रष्टाचार का काफी पुराना रूप है जो अभी भी चल रहा है। यह एक ऐसे व्यक्ति को संदर्भित करता है जो नौकरी के लिए अपने ही रिश्तेदारों और दोस्तों का साइड लेते हैं जबकि उनमें वो काबिलियत होती ही नहीं। यह निश्चित रूप से एक बहुत ही अनुचित प्रथा है। इसके कारण कई योग्य उम्मीदवार नौकरी पाने या उचित जगह पहुंचने में असफल हो जाते हैं।

Power का दुरुपयोग भी भ्रष्टाचार का एक और तरीका है। यहां, एक व्यक्ति अपनी शक्ति और अधिकार का दुरुपयोग करता है। उदाहरण के लिए एक न्यायाधीश द्वारा किसी अपराधी के मामले को अन्यायपूर्ण तरीके से खारिज करने को Power का दुरुपयोग कहा जा सकता है।

भ्रष्टाचार (Corruption) रोकने के तरीके

भ्रष्टाचार को रोकने का एक महत्वपूर्ण तरीका सरकारी नौकरी में बेहतर वेतन देना है। कई सरकारी कर्मचारियों को काफी कम वेतन मिलता है। इसलिए, वे अपने खर्चों को पूरा करने के लिए रिश्वत का सहारा लेते हैं। इसलिए सरकारी कर्मचारियों को अधिक वेतन मिलना चाहिए जिस कारण वो रिश्वत जैसी चीजों का सहारा ना लें.

भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने का एक और उपयुक्त तरीका श्रमिकों की संख्या बढ़ाना हो सकता है। कई सरकारी दफ्तरों में काम का बोझ बहुत ज्यादा होता है जो सरकारी कर्मचारियों के काम करने की रफ़्तार को भी कम कर देता है. जिसके बाद ये कर्मचारी काम को  तेजी से करने के बदले में रिश्वत लगते हैं। इसलिए सरकारी कार्यालयों में अधिक कर्मचारियों को लाकर रिश्वत देने के इस अवसर को समाप्त किया जा सकता है।

भ्रष्टाचार को रोकने के लिए सख्त कानून बहुत जरूरी है। दोषी व्यक्तियों को सख्त सजा देनी चाहिए।

कार्यस्थलों पर कैमरे लगाना भ्रष्टाचार को रोकने का एक शानदार तरीका है। क्योंकि कैमरा लगने के कारण कई लोग पकड़े जाने के डर से भ्रष्टाचार में लिप्त होने से बचेंगे।

सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि महंगाई कम हो। कीमतों में वृद्धि के कारण, बहुत से लोग अपनी आय को बहुत कम महसूस करते हैं। नतीजतन, यह जनता के बीच भ्रष्टाचार को बढ़ाता है। महंगाई बढ़ने से बिज़नेसमैन  अपने माल के स्टॉक को अधिक कीमतों पर बेचने के लिए कीमतें बढ़ाते हैं।

संक्षेप में कहें तो भ्रष्टाचार समाज की एक बड़ी बुराई है। समाज से इस बुराई को जल्द से जल्द खत्म किया जाना चाहिए। भ्रष्टाचार वह जहर है जो इन दिनों कई लोगों के दिमाग में घुस गया है। उम्मीद है कि लगातार राजनीतिक और सामाजिक प्रयासों से हम भ्रष्टाचार से मुक्ति पा सकते हैं।

यह भी पढ़ें - 
Share:

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें

Join Us On Telegram

Join Us On Telegram
Stay Updated

LIKE US ON FB

Popular Posts