A Hindi Blog About Motivation,Earn Money Online and New Technology

4 अग॰ 2018

गाय को न खिलाएं ऐसी रोटी, वरना बढ़ सकती है परेशानी

शास्त्रों और पुराणों में गाय को पूजनीय स्थान दिया गया है कहा जाता है कि गाय के शरीर में सभी देवी-देवता, ऋषि मुनि, गंगा आदि सभी नदिया और तीर्थ निवास करते हैं इसलिए गौ सेवा से सभी की सेवा का फल बड़ी ही आसानी से प्राप्त हो जाता है गाय का दूध जितना अधिक स्वास्थ्यवर्धक है उतना शायद ही किसी पशु का दूध लाभदायक होगा.
गाय को रोटी खिलाना
इसके अतिरिक्त गाय के पंचगव्य का भी विशेष महत्व है, धार्मिक पूजा में भी पंचगव्य का प्रयोग किया जाता है इतना ही नहीं गोमूत्र और गोबर के विभिन्न प्रकार के कीटनाशक का प्रयोग होता है इसीलिए गाय को हम गौ माता कहकर पुकारते हैं. सनातन धर्म में गाय को लक्ष्मी का स्वरूप माना गया है इसीलिए ऐसा कहा जाता है कि गाय की सेवा करने से घर परिवार सुखी संपन्न रहता है.

हिंदू मान्यताओं के अनुसार जिस घर में गाय की सेवा निस्वार्थ भाव से की जाती है उस घर में सदैव लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है इतना ही नहीं जिस घर में गाय की सेवा होती है वहां अचानक किसी भी प्रकार की विघ्न-बाधा नहीं आ पाती है.

दोस्तों अगर किसी के घर में गौ माता है तो गाय की सेवा करने का मौका हर दिन मिलता है परंतु शहर में ऐसा करना थोड़ा कठिन है इसलिए जब भी लोगों को मौका मिलता है तो वह गाय को रोटी खिलाने से नहीं चूकते हैं ताकि वो खुद को पुण्य का भागी बना सके और साथ ही साथ अपनी बिगड़ी किस्मत भी सवार सके परंतु जानकारी के अभाव में हम पूण्य करने की राह में हम कुछ ऐसा कर बैठते हैं जिसका फल दुःख और दुर्भाग्य के रूप में हमें मिलता है.

नित्य गाय को रोटी खिलाना हर एक दृष्टिकोण से शुभ माना जाता है लेकिन आजकल का तरीका बदल चुका है जो कि बेहद अशुभ माना जाता है. शास्त्रों के अनुसार गाय को रोटी खिलाने में कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए अधिकतर लोग गाय के लिए रोटी तो रखते हैं लेकिन समय से इसे खिला नहीं पाते हैं कई बार तो गाय के लिए रखी ये रोटी दो-तीन दिनों के बाद खिलाई जाती है.


गाय के लिए रखी रोटी को जब कुछ दिनों के अंतराल के बाद खिलाया जाता है तो ऐसी स्थिति में घर में बदहाली, दुख और विपत्ति का साया मंडराने लगता है ऐसी स्थिति में अधिक ध्यान रखना चाहिए कि गाय को खिलाने के लिए रोटी जो रखी गई है वो बासी ना हो क्योंकि अगर आप गाय को बासी रोटी खिलाते हैं या झूठा खाना खिलाते हैं तो इससे गाय का अपमान होता है जिससे गाय के अंदर वास कर रहे समस्त देवी देवताओं का भी अपमान होता है.

अगर आप ऐसा करते हैं तो आप सीधे तौर पर अपने और अपने परिवार पर विपत्ति लाते हैं जिससे आपका भाग्य दुर्भाग्य में बदल जाता है अगर हो सके तो खाना बनाते वक्त हमेशा पहली रोटी गाय के लिए बनाए और उसके बाद ही परिवार के बाकी लोगों के लिए रोटी बनाये.

कोशिश करनी चाहिए कि गाय की रोटी में थोड़ी हल्दी भी मिली हो इससे गाय को रोटी खिलाने का अपार सुख मिलता है अगर आप गुरुवार को लोई यानि सने हुए आटे में हल्दी मिलाकर गाय को खिलाते हैं तो इससे आपके जीवन में सुख और वैभव का आगमन होता है.

दोस्तों हम आपसे गुज़ारिश करते है की प्रकृति में मौजूद किसी भी जीव जंतु के प्रति कठोर भावना ना रखें, गौ माता का सम्मान करें, उनकी रक्षा करें. गौ माता के साथ कभी भी मन से घ्रणा न करे, उन्हें सदा ही सुख दें उनका दिल से सत्कार करें और नमस्कार आदि के द्वारा उनका पूजन करते रहे और जो मनुष्य इन बातों का पालन करता है वह जीवन में सुख और समृद्धि का भागी होता है.
Share:

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें

LIKE US ON FB

Popular Posts